भारत की फसलें

0
48

फसलें: कुछ तथ्य

मुख्य तथ्य फसल
जिस फसल को अपनी खेती के लिए ठहरे हुए पानी की आवश्यकता होती है धान
फसल उन क्षेत्रों में सबसे उपयुक्त है जहां बारिश केवल दो महीने के लिए होती है दालें
200 सेमी से ऊपर की वर्षा वाले क्षेत्रों और ढलान वाली पहाड़ियों के लिए आदर्श फसल चाय
जिस फसल के लिए बड़ी मात्रा में वर्षा और कोई स्थायी पानी की आवश्यकता नहीं है चाय
पौधे जो मिट्टी के जैविक नाइट्रोजन निर्धारण के लिए सबसे उपयुक्त हैं फलियाँ
बाजार में बिक्री के लिए उगाई जाने वाली फसलें को नकद फसलों के रूप में जाना जाता है।

खरीफ, रबी और ज़ायद फसलें

फसल अवधि प्रमुख फसलें
खरीफ जून से अक्टूबर धान, बाजरा
रबी नवंबर से मार्च गेहूं, जौ, सरसों
ज़ायद मार्च से जून तरबूज, ककड़ी, खरबूजा, गन्ना
अरबी में खरीफ का अर्थ है शरद ऋतु और खरीफ फसलों की सर्दियों में कटाई की जाती है । अरबी में रबी का अर्थ है वसंत ऋतु और रबी की फसलों की कटाई वसंत (मार्च) में की जाती है ।

 

भारत की फसलें

भारत में सबसे बड़े क्षेत्र में बोई जाने वाली फसल धान (2013-14 अनुमानों के अनुसार 43.9 मिलियन हेक्टेयर)
जिस फसल का उत्पादन भारत में सबसे ज्यादा है गन्ना ( 2013-14 अनुमानों के मुताबिक 348.4 मिलियन टन )
जिस अनाज का उत्पादन भारत में सबसे ज्यादा है धान ( 2013-14 अनुमानों के अनुसार 106.3 मिलियन टन )
वह कृषि उत्पाद जो आयात का सबसे बड़ा हिस्सा है खाद्य तेल (भोजन और संबद्ध उत्पादों के आयात का लगभग 68%)
वह कृषि उत्पाद जो निर्यात का सबसे बड़ा हिस्सा है धान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here