भारत की खनिज संपदा – इस्पात स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड के अंतर्गत इस्पात संयंत्र

0
93
स्थान राज्य
भिलाई इस्पात संयंत्र छत्तीसगढ़
राउरकेला इस्पात संयंत्र उड़ीसा
बोकारो इस्पात संयंत्र झारखंड
दुर्गापुर इस्पात संयंत्र पश्चिम बंगाल
इस्को इस्पात संयंत्र, बर्नपुर पश्चिम बंगाल
सलेम इस्पात संयंत्र तमिलनाडु
विश्वेशवरैया आयरन एंड स्टील कारख़ाना, भद्रावती कर्नाटक
राष्ट्रीय इस्पात निगम लिमिटेड के तहत इस्पात संयंत्र
विशाखापत्तनम इस्पात संयंत्र आंध्र प्रदेश
निजी क्षेत्र के इस्पात संयंत्र
टाटा स्टील लिमिटेड जमशेदपुर, झारखंड
एस्सार स्टील हजीरा, गुजरात
जेएसडब्ल्यू स्टील विजयनगर, कर्नाटक
जिंदल स्टील एंड पावर लिमिटेड रायगढ़, छत्तीसगढ़
भूषण स्टील लिमिटेड साहिबाबाद (यू.पी.), खोपोली (महा), ढेंकनाल (ओडिशा)

विविध तथ्य

भारत विश्व में कच्चे इस्पात का चौथा सबसे बड़ा उत्पादक है ।
भारत में इस्पात का सबसे बड़ा उत्पादक है टाटा स्टील है तथा दूसरे नम्बर पर स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड है ।
विश्व में स्टील का सबसे बड़ा उत्पादक आर्सेलर मित्तल है जिसके मुख्यालय लक्समबर्ग में है ।
भिलाई और बोकारो स्टील प्लांट सोवियत सहयोग से स्थापित किए गए थे ।
राउरकेला स्टील प्लांट को जर्मन सहयोग से स्थापित किया गया था ।
दुर्गापुर स्टील प्लांट को यूनाइटेड किंगडम के सहयोग से स्थापित किया गया था.
विशाखापटनम स्टील प्लांट भारत का पहला तट आधारित इस्पात संयंत्र है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here