दर्पणों द्वारा बने प्रतिबिम्ब

0
124

अवतल दर्पणों द्वारा बने प्रतिबिम्ब

बिम्ब की स्थिति प्रतिबिम्ब की स्थिति प्रतिबिम्ब की प्रकृति
अनंत पर फोकस पर (F) वास्तविक, छोटा, उलटा
वक्रता केंद्र (C) के परे F और C के बीच वास्तविक, छोटा, उलटा
C पर C पर वास्तविक, समान साइज़, उलटा
C और F की बीच C के परे वास्तविक, बड़ा, उलटा
F पर अनंत पर वास्तविक, बड़ा, उलटा
F और P के बीच दर्पण के पीछे आभासी, बड़ा और सीधा

 

अवतल दर्पणों के प्रयोग

  • डॉक्टरों द्वारा कान, मुंह और गले के अंदर प्रकाश को केंद्रित करने के लिए उपयोग किया जाता है
  • चेहरे के विवर्धित प्रतिबिम्ब देखने के लिए शेविंग मिरर के रूप में उपयोग किया जाता है
  • शक्तिशाली बीम उत्पन्न करने के लिए टॉर्च लाइटों तथा वाहन हेडलाइटों में रिफ्लेक्टर के रूप में उपयोग किया जाता है

 

उत्तल दर्पणों द्वारा बने प्रतिबिम्ब

बिम्ब की स्थिति प्रतिबिम्ब की स्थिति प्रतिबिम्ब की प्रकृति
किसी भी स्थिति में दर्पण के पीछे आभासी, छोटा, सीधा

 

उत्तल दर्पणो के उपयोग

  • वाहनो के ड्राइविंग मिरर में उपयोग किया जाता है ।
  • सड़कों के मोड़ो पर दूसरी ओर से आते हुए वाहनो को दखने के लिए लगाए जाते है ।

समतल दर्पणों के उपयोग

  • चेहरे देखने के लिए उपयोग ।
  • जहाजों, विमानों आदि में प्रयुक्त पेरिस्कोप में उपयोग ।
  • बच्चों का खिलौने बहुरूपदर्शक में प्रयुक्त ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here